कोरोना महामारी के बीच कम हुई हिंदू-मुस्लिम के बीच की खाई, लोग एक-दूसरे की कर रहे हैं मदद 

0
82

[ad_1]

<p style="text-align: justify;"><strong>गाजियाबाद:</strong> कोरोना महामारी ने हिंदू-मुस्लिम के बीच खाई को कम करने का काम किया है. एक तरफ जहां कोरोना की वजह से लोग त्रस्त होकर त्राहि-त्राहि कर रहे हैं. वहीं, इस दौर में इंसानियत और मानवता का परिचय देते हुए हिंदू-मुस्लिम के बीच खाई भी कम हुई है और लोग एक-दूसरे की मदद कर रहे हैं. कोरोना आपदा के इस दौर में हिंदू-मुस्लिम भाईचारे की मिसाल कायम करने वाले कई मामले सामने आए हैं.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>महिला का हुआ अंतिम संस्कार&nbsp;</strong><br />ताजा मामला गाजियाबाद के लोनी थाना क्षेत्र का है. जहां एक मुस्लिम बहुल कॉलोनी में केवल दो ही हिंदू परिवार रहते थे. इसी बीच एक महिला की मौत बाद उसके अंतिम संस्कार के लिए मुस्लिम समाजे के लोग आगे आए. इंसानियत और मानवता का परिचय देते हुए महिला का अंतिम संस्कार हिंदू रीति रिवाज के हिसाब से कराया गया.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>ये भी पढ़ें:&nbsp;&nbsp;</strong></p>
<h4 class="article-title"><a href="https://www.abplive.com/states/up-uk/up-coronavirus-update-26847-new-cases-of-corona-revealed-in-24-hours-1911668">Coronavirus In UP: सामने आए 26847 नए केस, 24 घंटे में 298 मरीजों की हुई मौत</a></h4>
<h4 class="article-title"><a href="https://www.abplive.com/states/up-uk/noida-sadbhavna-seva-sansthan-is-helping-needy-people-by-providing-free-ambulance-service-ann-1911608">नोएडा: ये संस्था रोज बचा रही है सैकड़ों लोगों की जान, जरूरत पड़ने पर आप भी इस नंबर पर कर सकते हैं कॉल</a></h4>

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here