बीवी के शौक को ही बनाया बिजनेस आइडिया, आज हो रही है करोड़ों रुपये की आमदनी

0
270

नई पीढ़ी के युवा अपने शौक को ही जुनून में परिवर्तित करते हुए बिज़नेस आइडिया ढूंढ निकालते हैं। हमनें ऐसे कई सफल स्टार्टअप के बारे में पढ़ा जिसकी शुरुआत शौकिया तौर पर हुई थी लेकिन वक़्त के साथ वह हजारों लोगों की पसंद बनते हुए कारोबार में तब्दील हो गया। आज हम ऐसे ही एक सफल स्टार्टअप की कहानी लेकर आए हैं जहाँ पत्नी की एक शौक ने पति को करोड़पति बना दिया।

गगन जैन जब अपनी पत्नी के हाथों पेंटेंड शर्ट्स पहनकर बाहर जाते तो लोग खूब तारीफ किया करते। उनकी पत्नी शौकिया तौर पर उनकी शर्ट्स पर हाथ से पेंट बनाया करती थी। गगन ने सोचा कि यदि लोगों को वाकई यह पसंद आ रहा है तो वो इसे अवश्य खरीदेंगें भी। उन्हें इसमें एक कारोबारी संभावना दिखी और उन्होंने इसी से संबंधित एक स्टार्टअप शुरु करने का फैसला किया।

करीबन चार साल पहले गगन अपनी पत्नी निति जैन के साथ इस आइडिया को लेकर इंदौर का रुख किये। उन्होंने 15 लाख की खुद की सेविंग से ‘रंगरेज’ नाम से एक कंपनी की शुरुआत की।

गगन बताते हैं कि कंपनी शुरू करने से कुछ साल पहले तक वे मस्कट में वर्किंग वीजा पर एक फैशन ब्रांड के लिए काम करते थे। उनकी पत्नी को पेंटिंग का बेहद शौक था लेकिन वह वहां काम नहीं कर पाती थी। अपने शौक को पूरा करने के लिए उसनें इनकी शर्ट्स पर पेंटिंग्स करनी शुरु कर दी। जब कुछ लोगों ने शर्ट्स खरीदने में दिलचस्पी दिखाई तो उन्होंने इसे बिजनेस आइडिया में तब्दील करने के बारे में सोचा। वहां से वे जॉब छोड़कर इंदौर आ गए और इस तरह रंगरेज की नींव पड़ी।

कंपनी शुरुआत में तो सिर्फ आउटफिट्स ही डिजाईन किया करती थी लेकिन दिनोंदिन बढ़ती डिमांड को देखते हुए हैंडीक्राफ्ट्स, तकिया, बेडशीट कवर और अन्य डेकोरेटिव आइटम्स भी डिजाइन करना शुरू कर दी। आज कंपनी का सालाना टर्नओवर 2 करोड़ तक पहुँच चुका है। इतना ही नहीं करीब 200 कर्मचारियों इनकी कंपनी से जुड़े हुए हैं जो सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि दुनिया भर के ग्राहकों के डिमांड की पूर्ति कर रहे हैं।

गगन और निति की सफलता से हमें यह सीख मिलती है कि हमारे आस-पास हजारों बिज़नेस आइडियाज हैं हमें बस उसे परखने की जरुरत है। यदि हम आइडिया को परखने में सफल हो गये और उसे ग्राहकों के सामने सही तरीके से पेश करें तो इस दुनिया में ऐसा कोई भी कारोबार नहीं होगा, जो सफल नहीं होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here