Ramdas Athawale Slogan For New Coronavirus Strain No Corona Corona No | ‘गो कोरोना गो’ के बाद नए स्ट्रेन के लिए रामदास अठावले ने दिया नया नारा

0
171

[ad_1]

नई दिल्ली: ‘गो कोरोना, कोरोना गो’ का नारा देने वाले केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने अब नया नारा दिया है. अब उन्होंने ‘नो कोरोना, कोरोना नो’ का नारा दिया है. ये नारा उन्होंने कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन के लिए दिया है. अठावले ने कहा कि उन्होंने इससे पहले ‘गो कोरोना, कोरोना गो’ का नारा दिया था और अब कोरोना जा रहा है. अब वो कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन के लिए ‘नो कोरोना, कोरोना नो’ का नारा देते हैं.

क्या है कोरोना का नया स्ट्रेन?

बता दें कि कोरोना के नए स्ट्रेन की वजह से ब्रिटेन में नए मामले बढ़ रहे हैं. बीते दिनों में ब्रिटेन में कोरोना के दो स्ट्रेन पाए गए. ब्रिटेन में पहले कोरोना स्ट्रेन पाए जाने के कुछ ही दिनों बाद एक और स्ट्रेन वहां पाया गया. ब्रिटेन ने बताया कि कोरोना का दूसरा वाला स्ट्रेन दक्षिण अफ्रिका से आया.

भारत ने ब्रिटेन में कोरोना का नया स्ट्रेन पाए जाने पर तुरंत फैसला लिया और वहां से आने वाले फ्लाइट्स पर 31 दिसंबर तक रोक लगाने का एलान किया था. इसके अलावा ब्रिटेन में कोरोना स्ट्रेन पाए जाने के बाद जापान की सरकार ने एहतियाती कदम उठाते हुए सभी विदेशी नागरिकों के प्रवेश पर अस्थायी रूप से प्रतिबंध लगाने की घोषणा की है. प्रतिबंध उन विदेशियों पर लागू होगा जो जापान के रहने वाले नहीं हैं.

ब्रिटेन से लौटे दो और यात्री दिल्ली में कोरोना पॉजिटिव पाए गए

ब्रिटेन की यात्रा से लौटे व्यक्तियों में से कोविड-19 संक्रमितों का पता लगाने के लिए दिल्ली में घर-घर जाकर चलाये जा रहे अभियान के तहत दो और यात्री कोविड-19 संक्रमित पाए गए हैं. अधिकारियों ने शनिवार के यह जानकारी दी. दिल्ली सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि 25 नवंबर से 21 दिसंबर के बीच ब्रिटेन से दिल्ली लौटे दो व्यक्तियों की हवाईअड्डे पर आरटीपीसीआर जांच निगेटिव आयी थी.

अधिकारी ने  बताया, ‘‘दोनों बाद में घर घर जाकर की गई जांच में संक्रमित पाये गए और उन्हें एलएनजेपी में बनाये गए अलग वार्ड में भर्ती कराया गया है. अब उन पर जीनोम जांच की जाएगी ताकि यह पता लगाया जा सके कि कहीं वे ब्रिटेन में सामने आये कोविड-19 के नये प्रकार से संक्रमित तो नहीं हैं.’’

इसके साथ ही ब्रिटेन से लौटे व्यक्तियों में से संक्रमित पाये गए व्यक्तियों की संख्या बढ़कर 21 हो गई है. इनमें से 11 व्यक्ति हवाई अड्डे पर संक्रमित पाये गए थे जबकि बाकी 10 घर घर जाकर की गई जांच के दौरान संक्रमित पाये गए.

गुजरात: तीसरे फेज के परीक्षण के तहत गुजरात में 750 से ज्यादा स्वयंसेवकों को दी गई ‘कोवैक्सीन’ की पहली खुराक 

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here