‘Rare event’: Bizarre weather leaves 50,000 Australian homes without electricity

0
41

[ad_1]

नई दिल्लीः खराब मौसम की वजह से पश्चिमी ऑस्‍ट्रेलिया के 50,000 से भी ज्यादा घरों में दूसरे दिन भी अंधेरा छाया रहा. 100 किमी प्रति घंटे की स्पीड से चलने वाली हवाओं ने सप्‍ताहांत में यहां के समुद्र तट को बर्बाद कर दिया है. इस तूफान को एक दुर्लभ घटना और दस साल में एक बार आने वाला बताया जा रहा है जो उष्‍ण-चक्रवात मंगा के कारण आया है.  

संडे को करीब 62,000 घरों में लाइट की सप्लाई नहीं थी. लेकिन धीरे-धीरे व्यवस्था सही होने से यह नंबर कम होते चले गए. हालांकि कुछ एरिया में इतना नुकसान हुआ है कि उसे सही कर पाने में समय लगेगा. सरकार ने इलेक्ट्रिकल चीजों का उपयोग करने और लैंडलाइन फोन का उपयोग नहीं करने की चेतावनी जारी की है. घरों की खिड़कियों से भी दूर रहने को कहा गया है. 

ड्राइवरों और मोटररिस्ट्स को पानी में गहराई में जाने से मना किया गया है और घर में ही रहने के लिए कहा गया है.  

तेज हवाओं के साथ आने वाली बारिश और बाढ़ की ऑस्‍ट्रेलिया से टकराने की उम्मीद है. ऑस्‍ट्रेलिया के साउथ स्पाॅट, केप लीविन-में 132 किमी प्रति घंटे से अधिक की हवा की रफ्तार रिकाॅर्ड की गई. साथ ही 15 साल में सबसे तेज हवाएं भी रिकाॅर्ड की गईं. 

ऑस्‍ट्रेलियन प्रधानमंत्री स्काॅट माॅरिसन ने मीडिया से कहा, ‘तूफानी मौसम ने वेस्टर्न ऑस्‍ट्रेलिया के बड़े हिस्सों को नुकसान पहुंचाया है, और इसमें लाइट की बहुत ज्यादा बर्बादी हुई है. इमरजेंसी सर्विसेज की सलाह सुनें और घर में सुरक्षित रहें.’ 

वेस्टर्न पावर ने ट्विटर पर ऐलान किया, ‘तेज हवाओं से हुए नुकसान से प्रभावित घरों और बिजनेस की संख्या बहुत ज्यादा होगी.’  डिपार्टमेंट ऑफ फायर एंड इमरजेंसी सर्विसेज के चीफ सुप्रिटेंडेंट डैनी मौस्कोनी ने मीडिया से कहा कि सिर्फ संडे को ही 390 इमरजेंसी काॅल्स रिसीव किए गए जो ज्यादातर पर्थ से किए गए थे. अभी तक डिपार्टमेंट के पास 407 इमरजेंसी काॅल्स आ चुके है. 

ब्यूरो ऑफ मेट्रोलोजी ने जानकारी दी कि गस्काॅय और सेंट्रल वेस्ट जैसे एरिया में तेज धूल चल रही थी, जबकि कई टाउंस में धुंध के कारण दिखाई देना मुश्किल हो रहा था. इसके साथ ही, हाई टाइड्स ने देश के वेस्ट कोस्ट को झकझोर दिया.



[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here