Scientists Questioned About Authenticity of Study on Hydroxychloroquine Drugs | Hydroxychloroquine पर WHO को एक और झटका! इस दवा के पक्ष में आए कई वैज्ञानिक

0
35

[ad_1]

नई दिल्ली: कोरोना वायरस (Coronavirus) के इलाज में हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन (Hydroxychloroquine) दवा को लेकर कई तरह के दावे किए जा रहे हैं. अब न्यूयॉर्क टाइम्स में छपी एक खबर के मुताबिक, 100 से ज्यादा वैज्ञानिकों और चिकित्सकों ने उस स्टडी पर सवाल खड़े किए हैं, जिसमें दावा किया गया है कि क्लोरोक्वाइन और हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन से कोविड-19 के मरीजों को मदद नहीं मिली है और जान का खतरा बढ़ा है. WHO ने भी इस दवा के ट्रायल पर रोक लगा दी है.

रिपोर्ट के मुताबिक, द लांसेट के संपादक रिचर्ड होर्टन और पेपर के लेखकों से एक खत के जरिए वैज्ञानिकों ने अखबार से उस डेटा का विवरण देने के लिए कहा है. ऐसे में वैज्ञानिकों के हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन दवा को लेकर किये गए नए दावों पर कोविड-19 संकट काल में नई थ्योरी को जोर मिलता है. 

ये भी पढ़ें: Coronavirus: Air India ने अपने कर्मचारियों के लिए जारी किया नया सर्कुलर, रखी ये शर्त

कोविड -19 को रोकने और इसके इलाज के लिए मलेरिया की दवाओं क्लोरोक्विन और हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन का इस्तेमाल लोगों के बीच चर्चा का विषय रहा है. इतना ही नहीं अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भी कोरोना वायरस को फैलने से रोकने में हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन दवा को कारगर बताया है. हाल ही में उन्होंने कहा था कि कोविड-19 संक्रमण को फैलने से रोकने की उम्मीद में वह खुद इस दवा का सेवन कर रहे हैं.

देश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है. स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, भारत में कोविड-19 मरीजों की संख्या बढ़कर 1.91 लाख हो गई है. मौत का आंकड़ा बढ़कर 5,394 पहुंच गया है. राहत की बात यह है कि कोरोना से 91,819 मरीज ठीक भी हुए हैं. चिंता की बात यह है कि विश्वभर में कोरोना मरीजों की संख्या 62 लाख के करीब पहुंच गई है. मौत का आंकड़ा 4 लाख को पार करने वाला है.

ये भी देखें-



[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here